माइक्रोफायनांस कार्यप्रणाली

संहिता द्वारा अपनाई जाने वाली माइक्रोफाइनांस की पद्धति बांग्लादेश के ग्रामीण बैंक ( नोबेल शांति पुरस्कार विजेता, 2006 ) द्वारा विकसित संयुक्त दायित्व / देयता समूह ( जेएलजी / जोइंट लायबिलिटी ग्रुप ) पद्धति पर आधारित है । संहिता की सेवाओं का लाभ उठाने के लिए ५ गरीब महिलाओं को साथ मिलकर एक समूह बनाना होता है । वे सभी एक ही आयु वर्ग और सामाजिक-आर्थिक स्थिति के होने चाहिए, उनमे एक दूसरे से पारिवारिक सम्बन्ध नहीं होने चाहिए, ऐसे पडोसी जो एक दूसरे को अच्छे से जानते हों और आर्थिक लेन देन में एक दूसरे पर विश्वास रखतें हो । एक केंद्र का आरम्भ कम से कम ३ समूहों से होता है, जब कि एक केंद्र के आस पास दूसरे केंद्र का आरम्भ २ समूहों के साथ भी हो सकता है ।

नए संभावित सदस्यों को ४ दिन का प्रशिक्षण दिया जाता है, जिसमें उन्हें संहिता के आर्थिक साक्षरता प्रशिक्षण, माइक्रोफाइनांस कार्यक्रम के नियमों, और हस्ताक्षर करना सिखाया जाता है । प्रशिक्षण पश्चात सफलतापूर्वक एक परीक्षा में उतीर्ण होने पर सदस्यों को नियमित एक साप्ताहिक केंद्र बैठक में भाग लेना होता है जहाँ ऋण प्रस्ताव लेना, ऋण वितरण और ऋण की वापसी जैसे सभी लेन देन होते हैं । माइक्रोफाइनांस की सेवाओं में वर्तमान सूक्ष्म ऋण, सूक्ष्म बीमा और सूक्ष्म पेंशन सम्मिलित है ।

संहिता के कार्य क्षेत्र में अनेक चुनौतीयाँ हैं । दुर्गम, जंगली इलाके, पड़ोसी राज्यों की तुलना में एक तिहाई जनसंख्या घनत्व, सडकें और बाजार जैसी बुनियादी सुविधाएँ की कमी आदि कई अनूठी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है । संहिता को इन चुनौतियों से निपटने के लिए ग्रामीण बैंक की पद्धति में कई बदलाव के साथ अपनाना पड़ा ।

संहिता कम से कम १ या २ कर्मचारियों से अपनी शाखाएँ संचालित करती है, जिससे हम छोटे शाखाओं के माध्यम से दूर दराज में बसे समुदायों को सेवाएँ प्रदान कर पाते हैं । शाखाएँ, इकाई में स्तिथ लेजर प्रिंटर जैसे उच्च निवेश संसाधनों के भार को आपस में बाँट लेते हैं । ऋण वितरण नकद या चेक द्वारा केंद्र या शाखा में होता है । ऋण की वापसी साप्ताहिक है परन्तु तेजी के साथ मासिक भुगतान के विकल्प भी दिए जा रहे हैं ।

संहिता विशेष रूप से केवल फ्री ओपन सोर्स ( Free & Open Source ) प्रौद्योगकी का उपयोग करती है । संहिता नेट्बूक्स में फेडोरा / लिनक्स के उपयोग में वर्ष २००८ से अग्रणी रही है, जबकि वे प्रथम बार बाजार में उपलब्ध हुए थे । संहिता की प्रौद्योगिकी साथी ईक्यूबएच ( eCubeH ) ने सर्वर, नेट्बूक्स और स्मार्टफोन्स में चलने वाले माइक्रोफाइनांस स्ट्रीम्स  ( Microfinance StreamsTM ) नामक उद्यम सॉफ्टवेर का निर्माण किया है जिसमें अपनी आवश्यकता अनुसार बदलाव किये जा सकते हैं । संहिता के लिए यह सेवाएँ नि:शुल्क हैं । SFTP और वेब सर्वर ईक्यूबएच ( eCubeH ) के डेटा केन्द्रों से आंतरिक रूप से संचालित है, जिससे नई सेवाओं के विन्यास में भारी क्षमता प्राप्त होती है । सभी रिपोर्टों को इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से एक समेकित संस्थागत डेटाबेस में प्रत्येक दिन के अंत में संचारित किया जाता है, जबकि वास्तविक समय प्रणालियों को ऐन्ड्रॉइड के स्मार्टफोन्स एवं टैबलेट्स के माध्यम से उपयोग करने पर शोध जारी है । संहिता में नई प्रौद्योगिकियों के उपयोग पर बड़े पैमाने पर प्रयोग जारी है जिससे हमें नई सेवाओं के माध्यम से अपने कार्यक्षेत्र में विस्तार के साथ साथ एक उच्च स्तर के नियंत्रण को बनाए रखने और लागत को नियंत्रित करने में सहायता मिलती है ।

sDevNet.org webPortal v2.0 © 2011 eCubeH Research Labs + Acknowledgements