संहिता वित्तीय साक्षरता आपका स्वागत करती है ।

विश्व में सभी के लिए, वित्तीय साक्षरता को एक मूलभूत आवश्यकता के रूप में मान्यता प्राप्त है । यदि बात विशेषकर गरीब महिलाओं की हो जैसा कि संहिता के साथ है, तो यह आवश्यकता और भी महत्वपूर्ण हो जाती है । एक प्रभावी, स्थानीय रूप से विरचित वित्तीय साक्षरता कार्यक्रम लोगों को वित्तीय मुख्यधारा से जोड़ने का कार्य करती है और उन्हें मौजूदा वित्तीय संसाधनों का भरपूर लाभ उठाने के लिए अवसर प्रदान करती है ।

संहिता माइक्रोफाइनांस ने, अपने प्रौद्योगिकी सहायक ईक्युबएच रिसर्च लैब्स के साथ मिलकर २०१० में एक वित्तीय साक्षरता प्रशिक्षण का अभियान आरम्भ किया । यह अभियान अपने विस्तार, अवसर, लक्षित समूह और स्थानीय भाषा के प्रयोग की दृष्टि से विश्व स्तर पर ऐसे किसी भी अभियान में से अधिक महत्वाकांक्षी अभियान है । यह कार्यक्रम महिलाओं को बचत, व्यय, ऋण, निवेश, जोखिम प्रबंधन के उपायों के साथ वर्तमान और भविष्य के लिए वित्तीय योजना बनाने का प्रशिक्षण प्रदान करने पर केंद्रित है ।

प्रथम चरण - सर्वेक्षण विश्लेषण
मई २०१० में भोपाल के मलिन बस्तियों में रहने वाले संहिता माइक्रोफाइनांस के १०,००१ महिला सदस्यों का विस्तृत सर्वेक्षण आरम्भ हुआ । गैर सदस्यों का भी सर्वेक्षण किया गया । इस सर्वेक्षण का केंद्र आवश्यक वित्तीय अवधारणाओं के ज्ञान के साथ आवश्यक वित्तीय सेवाओं तक पहुँच पर था । सर्वेक्षण के पूरा होने पर एकत्रित जानकारियाँ से प्राप्त मुख्य टिप्पणियों की पुष्टि करने के लिए एक गहन सांख्यिकीय विश्लेषण किया गया ।
द्वितीय चरण - प्रशिक्षण
सर्वेक्षण और इसकी औपचारिक विश्लेषण के आधार पर, संहिता ने फिर महिलाओं को पैसों के उपयोग और प्रबंधन के बारे में प्रभावी निर्णय लेने की क्षमता के विकास में सहायक के रूप में एक ४ मॉड्यूल प्रशिक्षण कार्यक्रम की रचना किया ।

वित्तीय ज्ञान के महत्व पर प्रकाश डालती एक पैंतालीस मिनट की हिन्दी फिल्म, हिंदी एनीमेशन फ्लिप चार्ट, बजट बनाने के लिए प्रपत्र आदि प्रशिक्षण संसाधन सामग्रियों को बनाने में मल्टीमीडिया का भरपूर और प्रभावी उपयोग किया गया ।

मॉड्यूल में से प्रत्येक को दो घंटे के सत्र में संरचित किया गया था जिससे ४ सप्ताह में प्रशिक्षण पूरा किया जा सके सभी प्रशिक्षण मलिन बस्तियों में सदस्यों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए आयोजित किये गए । प्रथम चरण के अंत जो २०११ के आरम्भ में हुआ तब प्रशिक्षण कार्यक्रम का ग्वालियर की मलिन बस्तियों तक विस्तार किया गया । प्रशिक्षण के पूरा होने के पश्चात इसके प्रभाव का अध्ययन किया गया ।

तृतीय चरण - विस्तार
भोपाल के मलिन बस्तियों में १०,०० महिलाओं के प्रशिक्षण के बाद प्रशिक्षण मॉड्यूल को संहिता माइक्रोफाइनांस कार्यक्रम के सदस्य नामांकन प्रशिक्षण के लिए पुनर्गठन किया गया । यह प्रशिक्षण अब संहिता माइक्रोफाइनांस के सभी नए और वर्तमान के सदस्यों को दिया जाता है ।

संहिता की वित्तीय साक्षरता प्रशिक्षण पर अध्ययन के लिए, कृपया देखें:

sDevNet.org webPortal v2.0 © 2011 eCubeH Research Labs + Acknowledgements